कॉर्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व | हमारी कंपनी | कुबोटा एग्रीकल्चरल मशीनरी इंडिया।

कोविड-19: डीलर्स और ग्राहकों के लिए निवेदन

कुबोटा एग्रीकल्चरल मशीनरी इंडिया प्राइवेट लिमिटेड अपने सभी ग्राहकों और हितधारकों के स्वास्थ्य और सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है।

हम आपको ध्यान दिलाना चाहते हैं कि वर्तमान कोविड महामारी के हालात के कारण, हम सीमित कर्मचारियों और कार्य समय के साथ काम करवाने का प्रयास कर रहे हैं और इसलिए हमारे मशीन और सेवाएं प्रदान करवाने में कुछ देरी हो सकती है।

हम सभी बाधाओं को दूर करने के लिए अपने डीलर पार्टनर्स के साथ कड़ी मेहनत कर रहे हैं और सुनिश्चित करते हैं कि हम मौजूदा स्थिति में अपने ग्राहकों को सर्वोत्तम सेवाएं दे सकें।. इस बीच, हमें इस अवधि के दौरान आपको हुई किसी भी असुविधा के लिए खेद है। हमें विश्वास है कि, आपके समर्थन और धैर्य से हम निश्चित रूप से इस स्थिति से मज़बूती से बाहर निकलेंगे।

कुबोटा एग्रीकल्चरल
मशीनरी इंडिया प्राइवेट लिमिटेड

कॉर्पोरेट की सामाजिक ज़िम्मेदारी

हमे परवाह है समाज की और दुनिया की

कुबोटा ग्रुप का सीएसआर (CSR) प्रबंधन

भोजन, पानी और पर्यावरण मनुष्य के लिए अपरिहार्य हैं, जिनके बिना मनुष्य रह नहीं सकता।

भोजन के प्रचुर और स्थिर उत्पादन में मदद करने वाले उत्पादों में योगदान देकर कुबोटा ग्रुप ने पृथ्वी तथा मानवता के भविष्य का सहयोग करना जारी रखा है,। यह पानी की आपूर्ति करने में और उसे बहाल करने में मदद करता है तथा अपने बेहतर उत्पादों, तकनीकों और सेवाओं के माध्यम से एक आरामदायक और उपजाउ वातावरण बनाने में मदद करता है।

वैश्विक कंपनियों का एक सदस्य होने के नाते, कुबोटा समूह अपनी ज़िम्मेदारियों मे आगे बढ़ेगा, जिसमें SDGs को हमारे कॉर्पोरेट प्रबंधन में शामिल करना है। SDGs (स्थिरता विकास लक्ष्य) 2015 में विश्व नेताओं द्वारा यूनाइटेड नेशन्स में अपनाई गई एक स्थिरता की पहल है, जिसमें 17 लक्ष्यों को अंतिम रूप दिया गया था। इन लक्ष्यों की दिशा कुबोटा ग्रुप के लक्ष्यों से मेल खाती है और हमारे पास अपने व्यवसाय को बढ़ाने के लिए एक मजबूत प्रतिबद्धता एवं कारण है जिससे हम एक स्थायी समुदाय और स्थायी दुनिया को प्राप्त कर सकते हैं।

कुबोटा समूह की CSR नीति और गतिविधियों (ग्रुप ग्लोबल साइट) के बारे में अधिक जानें

भारत में CSR गतिविधियाँ

कुबोटा समूह अपनी व्यावसायिक गतिविधियों को इस अवधारणा के आधार पर लागू कर रहा है कि यह "कंपनियों का एक समूह होना चाहिए जो समाज के विकास और पृथ्वी के पर्यावरण के संरक्षण में योगदान देता है"।

हम एक ऐसी कंपनी बनने का लक्ष्य बना रहे हैं, जो समाज की अपेक्षाओं को पूरा करती है, और इसलिए "भोजन", "जल" और "पर्यावरण" के विषयों के तहत सामाजिक योगदान की गतिविधियों पर सक्रिय रूप से काम कर रही है।

2020

सीएसआर

अगस्त

आर्मी इंस्टीट्यूट ऑफ कार्डियो थोरैसिक साइंसेज (एआईसीटीएस), पुणे, को वेंटिलेटर की आपूर्ति

ग्रेवाल सैन, मेजर जनरल अरविंदम चटर्जी, ब्रिगेडियर मैथ्यूज जैकब और श्रीमती सोनिया मेघनानी (अमानोरा रोटरी क्लब) की उपस्थिति में आर्मी इंस्टीट्यूट ऑफ कार्डियो थोरैसिक साइंसेज को दो वेंटिलेटर (ब्रांड: नोक्का) दान किए हैं| आर्मी इंस्टीट्यूट ऑफ कार्डियो थोरैसिक साइंसेज (AICTS), पुणे, सरकारी अस्पताल है जो कोविड -19 मरीजों के लिए काम कर रहा है। अस्पताल को पुणे शहर में सशस्त्र बलों और नागरिकों के COVID19 रोगियों के इलाज के लिए नामित किया गया है।

सीएसआर

अगस्त

फूड डिस्ट्रीब्यूशन

स्वयंसेवकों के माध्यम से उचित सर्वेक्षण के साथ, हमने जरूरतमंद लोगों के बारे में जानकारी एकत्र की, जिनके पास राशन कार्ड और आय के अन्य स्रोत नहीं थे, इन विशिष्ट परिवारों को राशन किट वितरित किए। भीड़ से बचने के लिए राशन कूपन वितरित किए और उन्हें वायरस फैलने के किसी भी प्रकार के जोखिम से बचने के लिए सामाजिक दूरी के मानदंडों को बनाए रखने के लिए कहा।

सीएसआर

अगस्त

स्कूल छोड़ने से रोकने के लिए शैक्षिक किट वितरण

पिछले कुछ महीनों से वंचित छात्रों की शिक्षा पूरी तरह से ठप हो गई है। उनके पास कोई स्कूल, व्याख्यान, शिक्षक, किताबें या बुनियादी स्टेशनरी भी नहीं है। कई वंचित बच्चों के माता-पिता ने, शिक्षा की तुलना में भोजन और अन्य आवश्यक वस्तुएं को उच्च प्राथमिकता दी है। हमने 400 बहुत जरूरतमंद छात्रों की पहचान की जो स्कूल छोड़ने के कगार पर थे और उन्हें स्टेशनरी और शैक्षिक आपूर्ति के साथ मदद की।

सीएसआर

अगस्त

स्व-मूल्यांकन और केस रिपोर्टिंग सहायता

उन लोगों के लिए जिनके पास कोविड-लक्षणों के बारे में और रिपोर्टिंग और चिकित्सा सहायता के बारे में कम जानकारी है, उनको यह सूचित करने के लिए एक अभियान चलाया कि लक्षणों का निदान कैसे करें, कैसे और कहां रिपोर्ट करें और उचित चिकित्सा सहायता प्राप्त करने के लिए अगला कदम क्या उठाएं।

सीएसआर

अगस्त

कोविड संबंधित सुरक्षा सत्र: जागरूकता और रोकथाम दिशानिर्देश

लाभार्थियों के लिए कोविड संबंधित सुरक्षा जागरूकता और रोकथाम दिशानिर्देशों के बारे में (उचित WHO दिशानिर्देशों के साथ) एक सत्र का आयोजन किया गया। जिसमें क्या करें और क्या न करें, हाथ अच्छे से धोने का तरीका, सामाजिक दूरी के उपायों आदि के बारे में बताया गया।